गन्ने की खेती में किसान इस महीने में करें ये काम, होगा बहुत फायदा

गन्ने की फसल में आवश्यतानुसार सिंचाई करें अथवा अधिक पानी देने से बचें।

गन्ने में लगने वाले सभी बेधक कीटों की देखने के लिए लाइट-फेरोमोन (4 ट्रैप्स/हैक्टेयर) लगवाय।

पायरिला रोग के नियंत्रण के लिए निचे पत्तियों के सामने वाले भाग में यदि सफेद रंग का अंड समूह देखने लगे तो ग्रसित पत्तियों केा काट  दें।

यदि फसल में काला चिकटा का प्रकोप देखे तो फसल की पत्तियां हल्की पीली पड़ने लगी है

 तो ऐसी अवस्था में 3 प्रतिशत यूरिया और क्लोरपायरीफॉस 20 ईसी (6.25 लीटर प्रति हैक्टेयर) दवा का 1500 से 1600 लीटर पानी में घोल बनाक रलगा दे

रोग ग्रसित पौधों को खेत से निकाल कर कहीं दूर ले जाकर फेक दे 

पेडी गन्ने में अत्यंत अधिक किल्ले निकलने की दशा में गन्ने की पंक्तियों [पर मिट्‌टी चढ़ाएं।

अधिक जानकारी के लिए लिंक पर क्लीक करे