धान में होंगे अच्छे कल्ले ही कल्ले, अपनाएं ये तरीका

जान ले धान की खेत में अधिक पानी न हो  एवं प्रतिएकड़ 20 किलो नाइट्रोजन अथवा 10 किलो जिंक की मात्रा जरूर दें

धान पानी वाली फसल है। यानि ये नहीं है कि फसल में पूरे 4 महीने पानी रखें

इससे धान की जड़ों का धूप और आक्सीजन सही से मिल पाता है एवं जड़ों की बढ़वार अच्छी होती है।

 रोपाई के 15-20 दिनों बाद पाटा चलवा दे 

इससे छोटी एवं हल्की जड़ों को भी आगे निकले का मौका मिलता है।

 करें धानजाइम गोल्ड का छिड़काव

धानजाइम गोल्ड  को एक मि० ली० की दर से एक लीटर पानी में मिलाकर 500 मिलीलीटर प्रति हैक्टेयर की दर से छिड़काव करें। 

 अच्छी खरपतवार के लिए 2-4D नामक दवा का प्रयोग कर सकते हैं।