धान की अधिक पैदावार के तरीके

गर्मी में उचित समय मिलने पर खेत की गहरी जुताई मिट्टी पलट हल से जरूर कर लें

गोबर की खाद 10 से 12 टन प्रति हेक्टर लास्ट जुताई या वर्षा से पहले खेत में फैला देना चाहिए ।

नाड़ी हल या दुफन या सीडड्रिल में बीज बुवाई।

बियासी पद्धति से सवा गुना अधिक बीज बोकर बुवाई के एक महीने बाद फसल की पानी भरे खेत में हल्की जुताई।

 इस विधि पहले धान की रोपणी सीमित इलाके में तैयार की जाती है 

25 से 30 दिन में धान के पौध को खेत में बनाकर रोपाई की जाती है।

धान के लिए बीज की मात्रा बुवाई के पद्धिति के अनुसार अलग-अलग रखनी चाहिए,

अधिक जानकारी के लिए लिंक पर क्लिक करे