गन्ने में अधिक फुटाव,मोटाई एवं लम्बाई के लिए क्या करना चाहिए

सबसे पहले किसान को अपनी फसल में से खरपतवार को अलग कर देना चाहिए.

गन्ने की फसल में किसान भाई  खरपतवार को नराईअबएवं गुड़ाई करने के बाद निकाल सकते हैं.

बुवाई से पहले देसी हल की 5-6 जुताई करनी चाहिए, चूँकि बुवाई के वक्त खेत में नमी होनी चाहिए .

गन्ने की फसल में सिंचाई का पर्याप्त प्रबंधन करें.

अपने ही खेत में किसान गन्ने का बीज कहीं और से तैयार कर लें

. इस दौरान इस बात का ध्यान रखना बेहद आवश्यक है कि उसमें कीट और बीमारी का प्रयोग नहीं हुआ हो

. तैयार किए हुए बीज की बुवाई 8 से 10 महीने में करनी चाहिए 

 इसके दौरान बीज को कीटाणु रहित करने के लिए बाविस्टिन का घोल बनाकर उसे डीप करके बुवाई करें.